Biography Hindi

स्टीफन हॉकिंग की जीवनी – Stephen Hawking Biography Hindi

स्टीफन हॉकिंग प्रसिद्ध ब्रितानी भौतिक वैज्ञानिक थे। उन्होने 1962 में उन्होने भौतिक विज्ञान की डिग्री ली। 1963 में कैब्रिज विश्वविद्यालय में ब्रह्मांड विज्ञान में रिसर्च की। इसी साल उन्हे एंयोट्रोफिक लैटरल सेलेरोसिस नाम की बीमारी हो गई, जिसमें अंग धीरे –  धीरे काम करना बंद कर देते है। 1974 में रॉयल सोसायटी के सबसे कम उम्र के सदस्य बने। 1988 में उनकी पुस्तक ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम प्रकाशित हुई। उन्होने ब्लैक होल्स और बिग बैंग सिद्धान्त को समझाने में अहम भूमिका निभाई है। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको स्टीफन हॉकिंग की जीवनी – Stephen Hawking Biography Hindi के बारे में बताएगे।

स्टीफन हॉकिंग की जीवनी – Stephen Hawking Biography Hindi

स्टीफन हॉकिंग की जीवनी - Stephen Hawking Biography Hindi

जन्म

स्टीफन हॉकिंग का जन्म 8 जनवरी 1942 को ऑक्सफोर्ड, इंग्लैंड में हुआ था। उनका पूरा नाम स्टीफन विलियम हॉकिंग था। उनके पिता का नाम फ्रेंक हॉकिंग था, स्टीफन के पिता एक चिकित्सा शोधकर्ता के रूप में कार्य करते थे तथा उनकी माता का नाम इसोबेल था और जो चिकित्सा अनुसंधान संस्थान में बतौर एक सचिव के रूप में काम करती थी। उनकी पत्नी का नाम जेने वाइल्ड, एलेन मेसन है 1995 में स्टीफन हॉकिंग को उनकी पहली पत्नी जेन वाइल्ड ने तलाक दे दिया। इस तलाक की वजह उनके नास्तिकता सम्‍बंधी विचारों को माना जाता है। वे तर्कशील वैज्ञानिक थे और अपने तर्कों से ईश्‍वर की सत्‍ता को चुनौती देते रहते थे, जो जेन वाइल्‍ड को पसंद नहीं थे। इसके बाद इलियाना मेसन नामक नर्स से उनकी दूसरी शादी हुई। लेकिन यह शादी भी लम्‍बी नहीं चली और 2007 में फिर उनका तलाक हो गया। तथा उनके बच्चों के नाम लूसी, रॉबर्ट और टिम है।

शिक्षा

स्टीफन हॉकिंग ने अपनी शुरुआती शिक्षा सेंट एलबेंस स्कूल में की। फिर वे ऑक्सफोर्ड के यूनिवर्सिटी कॉलेज चले गए। उनकी रुचि बचपन से गणित में थी, लेकिन पिता उन्हें डॉक्टर बनाना चाहते थे। चूंकि उनके पिता खुद एक डॉक्टर थे और इसीलिए वे ऐसा चाहते थे। पर संयोगवश उनकी आगे की पढ़ाई भौतिकी विषय में हुई क्योंकि उन दिनों कॉलेज में गणित की पढ़ाई उपलब्ध नहीं थी और धीरे-धीरे इसी विषय से कॉस्मोलॉजी सेक्शन में पढ़ाई की। उन्होने 1962 में उन्होने भौतिक विज्ञान की डिग्री ली। 1963 में कैब्रिज विश्वविद्यालय में ब्रह्मांड विज्ञान में रिसर्च की। इसी साल उन्हे एंयोट्रोफिक लैटरल सेलेरोसिस नाम की बीमारी हो गई, जिसमें अंग धीरे –  धीरे काम करना बंद कर देते है।

करियर

1974 में रॉयल सोसायटी के सबसे कम उम्र के सदस्य बने। उन्होंने अपने रिसर्च का ज्यादातर समय ब्लैक होल और स्पेस-टाइम के सिद्धान्तों पर शोध में बिताया। इस संबंध में उन्होंने कई पत्र भी प्रकाशित किए जिससे वैज्ञानिक दुनिया में उनका एक बड़ा नाम हुआ। उनकी सबसे प्रसिद्ध खोज थी जब उन्होंने साबित किया था कि ब्लैक होल से भी कुछ मात्रा में रेडिएशन निकलती है जिसे उन्होंने हॉकिंग रेडिएशन कहा। साल 1998 में उनकी किताब A brief History of Time प्रकाशित हुई। इस किताब में उन्होंने महाविस्फोट का सिद्धांत (Big Bang Theory) और ब्लैक होल के बारे में लिखा है। हॉकिंग भौतिक विज्ञान के कई अलग-अलग लेकिन समान रूप से मूलभूत क्षेत्र जैसे गुरुत्वाकर्षण, ब्रह्मांड विज्ञान, क्वांटम थ्योरी, सूचना सिद्धांत और थर्मोडायनमिक्स को एक साथ ले आए थे। क्या आप जानते हैं कि 2014 में स्टीफन हॉकिंग की प्रेरक जिंदगी पर आधारित फिल्म ‘द थिअरी ऑफ एवरीथिंग’ रिलीज हुई थी। स्टीफन हॉकिंग द्वारा की गई महत्वपूर्ण खोज –

  • सिंगुलैरिटी का सिद्धांत (1970) – आइंस्टीन के गुरुत्वाकर्षण के सिद्धांत भी सिंगुलैरिटी के बारे में बताते हैं। हालांकि हॉकिंग के शोध के दौरान पता चला कि बिग-बैंग दरअसल ब्लैक होल का उलटा पतन ही है।
  • ब्लैक होल का सिद्धांत (1971-74) – स्टीफन हॉकिंग ने ब्लैक होल को लेकर कई शोध किए। उनके पहले सिद्धांत के अनुसार, ब्लैक होल का कुल सतह क्षेत्र कभी भी छोटा नहीं होगा। एक अन्य सिद्धांत के अनुसार ब्लैक होल गर्म होता है।
  • कॉस्मिक इन्फ्लेशन थ्योरी (1982) – यह सिद्धांत साल 1980 में एलन गुथ (Alan Guth) द्वारा दिया गया था। बाद में उन्होंने बताया कि पदार्थ के वितरण में कम बदलाव होता है अर्थात इन्फ्लेशन के दौरान यह ब्रह्मांड में आकाशगंगाओं के प्रसार को जन्म दे सकता है।
  • यूनिवर्स का वेव फंक्शन पर मॉडल (1983)- स्टीफन हॉकिंग गुरुत्वाकर्षण के एक क्वांटम थ्योरी की स्थापना में रुचि रखते थे, लेकिन जेम्स हार्टले के साथ उन्होंने 1983 में हार्टले-हॉकिंग स्टेट मॉडल प्रकाशित किया था। यह सिद्धांत कहता है कि समय महाविस्फोट से पहले मौजूद नहीं था और इसलिए ब्रह्मांड की शुरुआत की अवधारणा अर्थहीन है।
  • टॉप-डाउन थ्योरी (2006)– हॉकिंग का कहना है कि ब्रह्मांड में गुरुत्वाकर्षण जैसी शक्ति है इसलिए वह नई रचनाएँ कर सकता है उसके लिए उसे ईश्वर जैसी किसी शक्ति की सहायता की आवश्यकता नहीं है।

विचार

  • ऊपर सितारों की तरफ देखो अपने पैरों के नीचे नहीं। जो देखते हो उसका मतलब जानने की कोशिश करो और आश्चर्य करो की क्या है जो ब्रह्माण्ड का अस्तित्व बनाये हुए है। उत्सुक रहो।
    चाहे ज़िन्दगी जितनी भी कठिन लगे, आप हमेशा कुछ न कुछ कर सकते हैं और सफल हो सकते हैं।
  • मैंने देखा है वो लोग भी जो ये कहते हैं कि सब कुछ पहले से तय है, और हम उसे बदलने के लिए कुछ भी नहीं कर सकते, वे भी सड़क पार करने से पहले देखते हैं।
  • बुद्धिमत्ता बदलाव के अनुरूप ढलने की क्षमता है।
  • विज्ञान केवल तर्क का अनुयायी नहीं है, बल्कि रोमांस और जूनून का भी।
  • यदि आप हमेशा गुस्सा या शिकायत करते हैं तो लोगों के पास आपके लिए समय नहीं रहेगा।
    अन्य विकलांग लोगों के लिए मेरी सलाह होगी , उन चीजों पर ध्यान दें जिन्हे अच्छी तरह से करने से आपकी विकलांगता नहीं रोकती , और उन चीजों के लिए अफ़सोस नहीं करें जिन्हे करने में ये बाधा डालती है। आत्मा और शरीर दोनों से विकलांग मत बनें।
  • अतीत, भविष्य की तरह ही अनिश्चित है और केवल सम्भावनों के एक स्पेक्ट्रम के रूप में मौजूद है।
  • हम अपने लालच और मूर्खता के कारण खुद को नष्ट करने के खतरे में हैं। हम इस छोटे, तेजी से प्रदूषित हो रहे और भीड़ से भरे ग्रह पर अपनी और अंदर की तरफ देखते नहीं रह सकते।

पुरस्कार

  • उन्हे 1978 में अल्बर्ट आइंस्टीन पुरस्कार से नवाजा गया।
  • 1988 में वॉल्फ प्राइज़ से सम्मानित किया गया।
  • 1989 में प्रिंस ऑफ ऑस्टुरियस अवाडर्स से नवाजा गया।
  • 2006 में कोप्ले मेडल से सम्मानित किया गया।
  • 2009 में उन्हे प्रेसिडेंशियल मेडल ऑफ फ्रीडम अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।
  • स्टीफन हॉकिंग को 2012 में विशिष्ट मूलभूत भौतिकी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

पुस्तक

  • The Large Scale Structure of Space-Time – 1973
  • General Relativity; an Einstein Centenary Survey – 1979
  • Is the End in Sight for Theoretical Physics? An Inaugural Lecture Stephen Hawking – 1980
  • A Brief History of Time – 1988
  • The Illustrated a Brief History of Time – 1988
  • Black Holes and Baby Universes and Other Essays – 1993
  • Hawking on the big bang and black holes – 1993
  • The Nature of Space and Time – 1996
  • The Universe in a Nutshell – 2001
  • On the Shoulders of Giants (book) – 2002
  • The Future of Spacetime – 2002
  • The Theory of Everything: The Origin and Fate of the Universe – 2004
  • A Briefer History of Time – 2005
  • God Created the Integers – 2005
  • A Breif History of Time and the Universe in a Nutshell Stephen Hawking – 2007
  • George’s Secret Key to the Universe – 2007
  • George’s Cosmic Treasure Hunt – 2009
  • The Grand Design – 2010
  • The Dreams That Stuff Is Made Of: The Most Astounding Papers of Quantum Physics and How They Shook the Scientific World Stephen Hawking – 2011
  • George And The Big Bang – 2011
  • My Brief History – 2013
  • George and the Unbreakable Code – 2014
  • George and the Blue Moon – 2016
  • Black Holes: The Reith Lectures – 2016
  • Properties of Expanding Universes – 2017
  • Brief History/Universe BindUp International-PROP-EXP Stephen Hawking – 2017
  • Brief Answers to the Big Questions – 2018
  • Unlocking the Universe

हॉकिंग को असली प्रसिद्धी उनकी पुस्तक ‘ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम’ (A Briefer History of Time) से मिली। 1988 में उनकी पुस्तक ए ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ टाइम प्रकाशित हुई। पुस्तक का पहला संस्करण 1988 में प्रकाशित हुआ और लगातार 237 सप्ताह तक संडे टाइम्स का बेस्ट सेलर रहने के कारण इसे गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्डस में शामिल किया गया। इस पुस्तक की एक करोड़ प्रति बिकी और 40 अलग-अलग भाषाओं में इसका अनुवाद हुआ।

मृत्यु

स्टीफन हॉकिंग की 14 मार्च 2018 को मृत्यु हो गई।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close