Aaj Ka Itihas

18 अप्रैल का इतिहास – 18 April History Hindi

18 अप्रैल का इतिहास – 18 April History Hindi

हमारा इतिहास इतना बड़ा है कि इसे याद रख पाना किसी आम इंसान के बस की बात नहीं है

इसीलिए हमारी वेबसाइट पर हम आपको हर रोज यानी तारीख के हिसाब से आज की दिन घटित हुई घटनाओं का विवरण दे रहे है

जिसकी मदद से आप अपने ज्ञान को बढ़ा सकते है।

18 अप्रैल का इतिहास – 18 April History Hindi

 

18 April History Hindi
18 April History Hindi
  • 18 अप्रैल,1621 को गुरु तेग़ बहादुर का जन्म हुआ था, जो कि सिक्खों के नौवें गुरु थे।
  • 18 अप्रैल,1858 को जन्मे धोंडो केशव कर्वे को आधुनिक भारत का सबसे बड़ा समाज सुधारक और उद्धारक माना जाता है।
  • 18 अप्रैल,1859 को तात्या टोपे का निधन हुआ था, वे वीर पुरुष और ‘प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम’ में भाग लेने वाले प्रमुख व्यक्ति थे।
  • आज ही के दिन 1898 में दामोदर हरी चापेकर का निधन हुआ – दामोदर हरी चापेकर भारत के क्रांतिकारी अमर शहीदों में से एक थे।
  • 1901में आज ही चन्देश्वर प्रसाद नारायण सिंह का जन्म हुआ था,वे भारत के राजनीतिज्ञ थे।
  • 1916 में आज के ही दिन ललिता पवार का जन्म हुआ था हिन्दी फ़िल्मों की प्रसिद्ध अभिनेत्री थी।
  • जी. सुब्रह्मण्यम अय्यर जो कि भारत के जानेमाने पत्रकार तथा प्रमुख बुद्धिजीवी थे। 18 अप्रैल,1916 को उनका निधन हुआ था।
  • 1925 में आज भी अमेरिका के शिकागो में महिलाओं द्वारा लगाए और संचालित किए गए 8 दिवसीय वैश्विक मेले का उद्घाटन हुआ इस मेले का उद्देश्य था महिलाओं के विचार, कौशल और उत्पादक उत्पादों को सबके सामने लाना. इस मेले में 200000 से अधिक दर्शक दस्तक पहुंचे और $50000 की कमाई हुई.
  • 18 अप्रैल, 1928 को दुलारी का जन्म हुआ था वे भारतीय सिनेमा की प्रसिद्ध अभिनेत्री थीं।
  • 1946 में आज ही लीग ऑफ नेशन ने एक प्रस्ताव पारित कर इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस की स्थापना की इसके पैनल में 15 जज होते हैं जिनका कार्यकाल 9 वर्ष तय है। नीदरलैंड के हेग शहर में स्थित यह संस्था पहले पर्मानेंट कोर्ट ऑफ़ इंटरनेशनल जस्टिस के नाम से जानी जाती थी.
  • आज ही के दिन  1955 में बांडुंग में अफ़्रीकी-एशियाई सम्मेलन की शुरुआत हुई।
  • प्रसिद्ध वैज्ञानिक  अल्बर्ट आइंस्टाइन का निधन 18 अप्रैल 1955 में हुआ।
  • 1959 को आज ही बारीन्द्र कुमार घोष की मृत्यु हुई। बारीन्द्र कुमार घोष भारत के प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी तथा पत्रकार थे।
  • 1972 में आज ही पांडुरंग वामन काणे का निधन हुआ वे एक महान् भारतीय संस्कृतज्ञ और विद्वान् पंडित थे ।
  • विश्व विरासत दिवस ( वर्ल्ड हेरीटेज डे) – दुनिया भर के ऐतिहासिक स्मारकों और स्थलों के संरक्षण के लिए स्मारकों और स्थलों की अंतरराष्ट्रीय परिषद आज के दिन को विश्व विरासत दिवस के रूप में मनाती है। 1983 में यूनेस्को के 22 वीं आम सभा में इस दिवस को “स्मारकों और स्थलों का अंतरराष्ट्रीय दिवस” घोषित किया गया। 150 देशों में मनाए जाने वाले इस दिवस की इस वर्ष 2019 की थीम ‘रूरल लैंडस्केप्स’ रखी गई है। यूनेस्को ने विश्व के 1092 स्मारकों और स्थलों को विश्व विरासत घोषित किया है। सर्वाधिक 54 स्मारकों और स्थलों के साथ इटली पहले स्थान पर है। 37 स्थलों के स्थान पर भारत छठे पायदान पर है।
  • आज ही के दिन 1994में वेस्टइंडीज के बल्लेबाज़ ब्रायन लारा ने 375 रन बनाकर टेस्ट मैच की एक पारी में सर्वाधिक रन बनाने का विश्व रिकार्ड बनाया।
  • 1999 में आज ही ब्रिटेन की प्रमुख उपन्यासकार, जीवनीकार और सम्पादक मैरी बुलिंस का 90 वर्ष की आयु में निधन हुआ था।
  • 2001 में आज ही भारतीय सीमा में घुस आई बांग्लादेश की सेना की गोलीबारी से भारत के 16 जवान शहीद हुए थे।
  • आज ही के दिन 2002 में 1973 से इटली में निवास कर रहे अफ़ग़ानिस्तान के पूर्व शासक मोहम्मद जहीर शाह काबुल लौटे।
  • 2003 में आज ही सुधाकर पाण्डेय का निधन हुआ था। वे हिन्दी साहित्य की प्रमुख विधाओं के उत्कृष्ठ लेखक और सुधारक थे।
  • 2005 में आज ही भारत मुम्बई स्थित जिन्ना हाउस पाकिस्तान को देने पर सहमत हुए थे।
  • आज ही के दिन 2006 में राबिन हुड का शहर नाटिंघम लूटग्रस्त शहर घोषित हुआ था।
  • 2008 में आज ही इंफोसिस टैक्नोलाजी ने विकास एवं मरम्मत सेवाएँ उपलब्ध कराने के लिए अमेरिका की कॉनसेको के साथ पाँच वर्ष के लिए क़रार किया।
  • 18 अप्रैल,2008 को अमेरिकी सर्वोच्च न्यायालय ने जानलेवा इंजेक्शन के ज़रिये सज़ा-ए-मौत को वैध ठहराया। पाकिस्तान ने भारतीय क़ैदी सबरजीत सिंह की फ़ांसी की सज़ा को एक महीने के लिए टाला।
  • 2008 में आज ही भारत और मैक्सिको ने नागरिक उड्डयन व ऊर्जा के क्षेत्र में नये समझौते किए।
  • इराक की राजधानी बगदाद में 18 अप्रैल 2013 में हुए बम धमाकों से 27 की मौत हुई और 65 घायल हुए।
  • माउंट एवरेस्ट में आज ही के दिन 2014 में आए हिमस्खलन से नेपाल के 12 पर्वतारोहियों की मौत हुई।
  • 18 अप्रैल को फ़ायर सर्विस सप्ताह के रूप में भी मनाया जाता है।

आखरी शब्द

यहाँ पर हमने आपको 18 अप्रैल को घटित घटनाओं, 18 अप्रैल का इतिहास – 18 April History Hindi, Today History in Hindi 18 April , 18 April History Today Hindi, Today Event History in Hindi 18 April events के बारे में बताया।

अगर आपके पास कोई आज के दिन घटित को घटना या इतिहास की जानकारी है तो हमारे साथ जरुर शेयर करें.

इसके लिए आप कमेंट बॉक्स में कमेंट भी कर सकते है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close