https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-86233354-15
Biography Hindi

अनिल अंबानी की जीवनी – Anil Ambani Biography Hindi

अनिल अंबानी एक भारतीय व्यवसायी है. 2018 की फोर्ब्स सूची के अनुसार उनके 2.7 अरब अमेरिकी डॉलर है. जिसके अनुसार वे दुनिया के 887 वे सबसे धनी व्यक्ति है. लेकिन अपने भाई मुकेश अंबानी से अलग होने के बाद उनकी संपत्ति काफी कम हो गई है. अनिल अंबानी रिलायंस कैपिटल और रिलायंस कम्युनिकेशंस के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक है. इसके साथ-साथ वे रिलायंस एनर्जी तथा पूर्व में रिलायंस इंडस्ट्री लिमिटेड के उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक है। आइए आज इस आर्टिकल में अनिल अंबानी की जीवनी – Anil Ambani Biography Hindi के बारे में बताएं

अनिल अंबानी की जीवनी – Anil Ambani Biography Hindi

अनिल अंबानी की जीवनी

जन्म

अनिल अंबानी का जन्म 4 जून 1959 में मुंबई, भारत में हुआ था। उनके पिता का नाम धीरूभाई अंबानी था और उनकी माता का नाम कोकिलाबेन अंबानी है। अनिल के स्वर्गीय पिता धीरूभाई अंबानी द्वारा स्थापित रिलायंस समूह भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक घर आना है। उनके भाई का नाम मुकेश अंबानी और उनके दो बहनों का नाम नीना और दीप्ती है। उनका विवाह टीना मुनीम से फरवरी 1991 में हुआ। टीना मुनीम एक बॉलीवुड अभिनेत्री थी ।इनसे अनिल को दो बेटे हैं- जय अंशुल अंबानी और जय अनमोल अंबानी।

शिक्षा

अंबानी ने मुंबई विश्वविद्यालय से विज्ञान स्नातक की उपाधि प्राप्त की और पेंसिलवेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल से एमबीए की उपाधि प्राप्त की। इस समय वे व्हार्टन बोर्ड ऑफ ओवरीअर्स के सदस्य हैं।

करियर

  • अनिल अंबानी सहायक प्रमुख अधिकारी अधिकारी के रूप में 1983 में रिलायंस में शामिल हुए और भारतीय पूंजी बाजार में अनेक वित्तीय सुधार लाने का श्रेय उन्हीं को जाता है। जनवरी 1997 में 100 वर्षीय एक जेम्स बॉन्ड निर्गम के साथ जो एक उच्चतम बिंदु था। जिसके बाद उन्हें लोग एक वित्तीय जादूगर समझने लगे। उन्होंने रिलायंस समूह को भारत की अग्रणी वस्त्र, पेट्रोलियम, पेट्रोरसायन, बिजली और दूरसंचार कंपनी के रूप में इसकी वर्तमान स्थिति तक प्रशस्त किया।
  • अनिल उतर प्रदेश विकास परिषद (यह परिषद अब रद्द कर दिया गया है) के सदस्य थे।
  • वे DA-IICT गांधीनगर के बोर्ड ऑफ़ गवर्नर के अध्यक्ष हैं और भारतीय पौद्योगिकी संस्थान, Kanpur के बोर्ड ऑफ़ गवर्नर के सदस्य भी हैं।
  • वे इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट, अहमदाबाद के बोर्ड ऑफ़ गवर्नर के सदस्य हैं। वे केन्द्रीय सलाहकार समिति, केन्द्रीय विद्युत विनियामक आयोग के एक सदस्य भी हैं।
  • 2004 में अनिल अंबानी ने पिता के निधन होने के बाद इनके परिवार के व्यापार का बंटवारा हो गया और इस बंटवारे के बाद अनिल ने रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह का गठन किया था।
  • 2005 में इन्होंने फिल्म व्यापार में भी अपना कदम रखा और इन्होंने एडलैब्स फिल्म में बहुमत से दाखिल की थी। साल 2009 में कंपनी का नाम रिलायंस मीडिया वर्क कर रख दिया था।

विवाद

  • 2004 में उनके पिता की मृत्यु के बाद इनके पिता की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज पर नियंत्रण को लेकर इनका विवाद बड़े भाई मुकेश अंबानी के साथ हुआ था और इस विवाद के लिए इन की आलोचना भी की गई थी इसके अलावा साल 2000 में देश में हुए सबसे बड़े स्कैम 2G को लेकर इनसे CBI द्वारा पूछताछ की गई थी।
  • राफेल विवाद में भी इनका नाम सामने आया था और इनका नाम इस विवाद में आने के बाद उन्होंने नेशनल हेराल्ड अखबार पर मानहानि का केस कर दिया था, क्योंकि इस अखबार ने उनकी कंपनी के खिलाफ अपमानजनक चीजें लिखी थी उन्होंने यह मानहानि का केस 5,000 करोड़ रुपए का किया था।

संपत्ति

इनके पास कुल संपत्ति 210 करोड़ USD के आसपास के थे और इनके पास लैंबोर्गिनी गैलार्डो, रोल्स रॉयस प्रेत, रेंज रोवर वोग, टोयोटा फॉर्च्यूनर, डब्ल्यू 221 मर्सिडीज बेंज एस-क्लास, लेक्चरर्स एसयूवी और मर्सिडीज़ जीएलके 350 वशीकरण सहित कई जेट प्लेन भी है।

पुरस्कार

  • अनिल अंबानी को पहला पुरस्कार व्हार्ट्न भारतीय पूर्व छात्र पुरस्कार मिला.
  • 1997 में उन्हे बिजनेस ऑफ द ईयर पुरस्कार मिला.
  • 2004 ‘द सीईओ ऑफ द ईयर’ पुरस्कार से नवाजा गया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close