https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-86233354-15
Biography Hindi

बबीता फौगाट की जीवनी – Babita Phogat Biography Hindi

बबीता फौगाट एक भारतीय कुशती खिलाड़ी, पहलवान है। उन्होंने 2012 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता और 2014 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीते। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको बबीता फौगाट की जीवनी – Babita Phogat Biography Hindi के बारे में बताएगे।

बबीता फौगाट की जीवनी – Babita Phogat Biography Hindi

बबीता फौगाट की जीवनी - Babita Phogat Biography Hindi

जन्म

बबीता फौगाट का जन्म 20 नवंबर 1989 को बलाली गाँव, भिवानी ज़िला हरियाणा में हुआ था। उनके पिता का नाम महावीर सिंह फोगाट तथा उनकी माता का नाम दया कौर है। उनकी बहनों के नाम गीता फोगाट, रितु, संगीता है। उनकी सबसे छोटी बहन रितु फोगाट वह एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पहलवान हैं और 2016 राष्ट्रमंडल कुश्ती चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं। उनकी छोटी बहन, संगीता फोगाट भी एक पहलवान हैं।

Read This -> विजेंद्र सिंह की जीवनी – Vijender Singh Biography Hindi

करियर

  • उन्होंने 2012 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।
  • 2009 से 2015 तक बबीता ने सभी कॉमनवेल्थ, एशियन गेम्स में हिस्सा लिया है, जहाँ उन्होंने बहुत से पदक अपने नाम किये।
  • स्काटलैंड के ग्लास्गो में आयोजित कामनवेल्थ गेम्स  2014 में भारतीय महिला पहलवान बबीता कुमारी ने 55 किलोग्राम भार वर्ग में फ्रीस्टाइल कुश्ती में कनाडा की महिला पहलवान ब्रितानी लाबेरदूरे पहलवान को हराकर भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता।

Read This -> तारा चेरियन की जीवनी – Tara Cherian Biography Hindi

योगदान

बबीता फौगाट और उनकी बहनों और चचेरे भाईयों ने हरियाणा में अपने गाँव की महिलाओं और लड़कियों के प्रति दृष्टिकोण में बदलाव के लिए विशेष योगदान दिया है। बबीता चाहती हैं कि उनके गाँव वालों की सोच बदले और वे लोग भी अपनी बेटियों को पढ़ा-लिखा कर आगे बढ़ायें।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close