https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-86233354-15
Biography Hindi

करतार सिंह दुग्गल की जीवनी – Kartar Singh Duggal Biography Hindi

करतार सिंह दुग्गल (English – Kartar Singh Duggal) वे पंजाबी, हिंदी और उर्दू भाषाओं में लिखने वाले प्रसिद्ध साहित्यकार थे जिन्होंने पंजाबी, उर्दू, हिन्दी और अंग्रेज़ी भाषा में लघु कथाएँ, उपन्यास, नाटकों की रचनाएँ की। उन्हे 1988 में भारत सरकार द्वारा साहित्य एवं शिक्षा के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

करतार सिंह दुग्गल की जीवनी – Kartar Singh Duggal Biography Hindi

Kartar Singh Duggal Biography Hindi
Kartar Singh Duggal Biography Hindi

संक्षिप्त विवरण

नामकरतार सिंह दुग्गल
पूरा नाम, अन्य नाम
के. एस. दुग्गल
जन्म1 मार्च, 1917
जन्म स्थानरावलपिंडी (अब पाकिस्तान), अविभाजित पंजाब
पिता का नाम
माता  का नाम
राष्ट्रीयता भारतीय
मृत्यु
26 जनवरी, 2012
मृत्यु स्थान
दिल्ली

जन्म

करतार सिंह दुग्गल का जन्म 1 मार्च, 1917 को रावलपिंडी (अब पाकिस्तान), अविभाजित पंजाब में हुआ था। इनकी पत्नी का नाम ‘आयशा’ है तथा उनका एक पुत्र भी है।

शिक्षा

Kartar Singh Duggal ने लाहौर के फोरमैन क्रिश्चियन कॉलेज से अंग्रेज़ी में एम.ए. किया था।

करियर

उन्होंने 1942 से 1966 तक आकाशवाणी में केंद्र निदेशक समेत विभिन्न पदों पर काम किया तथा इस दौरान उन्होंने आकाशवाणी के लिये पंजाबी समेत दूसरी भाषाओं में कई नाटक और कहानियाँ लिखीं। 1966-73 में करतार सिंह दुग्गल नेशनल बुक ट्रस्ट के निदेशक पद पर थे और 1973 से 1976 तक सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में बतौर सलाहकार उन्होंने अपनी सेवाएं दीं।

रचनाएँ

करतार सिंह दुग्गल ने सैकड़ों कहानियाँ और कविताएँ लिखीं तथा उनकी कहानियों के कुल 24 संग्रह प्रकाशित हुये। इसी तरह कविताओं के भी 2 संग्रह प्रकाशित हुये। इसके अलावा उन्होंने 10 उपन्यास और 7 नाटक भी साहित्य संसार को सौंपे। उनकी कई कहानियों के भारतीय-विदेशी भाषाओं में अनुवाद हुए और सैकड़ों संग्रह प्रकाशित हुए। करतार सिंह के दो कविता संग्रह और एक आत्मकथा भी पाठकों तक पहुँची। उनकी पुस्तकें कई विश्वविद्यालयों में पाठ्यक्रम का हिस्सा बनीं।

  • हाल मुरीदों का
  • ऊपर की मंजिल
  • इंसानियत
  • मिट्टी मुसलमान की
  • चील और चट्टान
  • तुषार कण
  • सरबत्त दा भला

पुरस्कार

  • करतार सिंह दुग्गल को 1988 में भारत सरकार द्वारा ‘साहित्य एवं शिक्षा’ के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।
  • करतार सिंह साहित्य अकादमी सम्मान सहित कई सम्मानों से नवाजे गए उन्होंने उपन्यास, कहानियाँ, और नाटक लिख कर अपने लिए साहित्य की दुनिया में जगह बनाई।

मृत्यु

करतार सिंह दुग्गल का निधन 26 जनवरी, 2012 को दिल्ली में हुआ था।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close