Biography Hindi

कोबे ब्रायंट की जीवनी – Kobe Bryant Biography Hindi

Kobe Bryant एक अमेरिकी पेशेवर बास्केटबॉल खिलाड़ी था जो नेशनल बास्केटबॉल एसोसियेशन (एनबीए) में लॉस एंजिल्स लेकर्स के लिए शूटिंग गार्ड के रूप में खेलते थे। उन्हे द ब्लैक मांबा के नाम से जाना जाता था। 2008 में उन्होंने अमेरिका की राष्ट्रीय टीम के सदस्य के रूप में 2008 का ओलंपिक स्वर्ण पदक जीता था। 26 जनवरी 2020 को कोबे ब्रायंट और उनकी 13 वर्षीय बेटी की हेलिकॉप्टर दुर्घटना ग्रस्त होने के कारण उनकी मौत हो गई। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको कोबे ब्रायंट की जीवनी – Kobe Bryant Biography Hindi के बारे में बताएगे।

कोबे ब्रायंट की जीवनी – Kobe Bryant Biography Hindi

जन्म

Kobe Bryant का जन्म 23 अगस्त 1978 को पेंसिल्वेनिया के फिलाडेल्फिया में हुआ। उनके पिता का नाम जो “जेलिबीन” ब्रायंट तथा उनकी माता का नाम कॉक्स ब्रायंट है। उनकी दो बहने थी। उनके पिता फिलाडेल्फिया 76ers के भूतपूर्व खिलाड़ी तथा लॉस एंजिल्स स्पार्क्स के भूतपूर्व हेड कोच रह चुके हैं। जब ब्रायंट छह साल के थे तब उनके पिता ने एनबीए छोड़ दिया और पेशेवर बास्केटबॉल खेलने के लिए अपने परिवार के साथ इटली चले गए। Kobe Bryant की पत्नी का नाम वेनिसा लेन ब्रायंट है तथा उनकी बेटी का नाम गियाना, नतालीय, बियांका और उनकी कैपरी(6 वर्ष) की है।

शिक्षा

ब्रायंट ने लोअर मेरियन के फिलाडेल्फिया सबअर्ब (उपनगर) स्थित स्कूल ‘लोअर मेरियन हाई स्कूल’ के अपने शानदार हाई स्कूल करियर के दौरान राष्ट्रीय स्तर पर ख्याति अर्जित की. एक नए छात्र रूप में उन्होंने विश्वविद्यालय की बास्केटबाल टीम (जूनियर और सीनियर) के लिए खेला। उनके पिता ने हाई स्कूल के द्वितीय वर्ष के दौरान उनको प्रशिक्षित किया।

करियर

1996 में, ब्रायंट लॉस एंजिल्स लेकर्स में दिखाई दिए और तुरंत एनबीए के कई रिकॉर्ड बनाए। वह पहली टीम में सबसे कम उम्र के खिलाड़ी बने, एनबीए ऑल-स्टार टीम में सबसे कम उम्र के खिलाड़ी और इतने पर। टीम में पहले सीज़न से कोबे ने जनता का प्यार और कोच का विश्वास जीता। हर साल, ब्रायंट सर्वश्रेष्ठ लीग स्निपर बन गया, और डिफेंडर की स्थिति में बोल रहा था।

लेकर्स के लिए, कोबी ने बीस सीज़न बिताए और पांच बार एनबीए चैंपियन और एक असली टीम के दिग्गज बने। उन्हें सभी सितारों के मैच में चार बार सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी के रूप में पहचाना गया और कुल मिलाकर उन्होंने 18 बार इसी तरह के खेलों में भाग लिया।

अप्रैल 2016 में, ब्रायंट ने अपने बास्केटबॉल करियर के अंत की घोषणा की। तब उनकी उम्र 37 साल थी।

क्लब के अलावा, कोबे ने यूएसए की राष्ट्रीय टीम के लिए सफलतापूर्वक खेला, जिसके साथ वह दो बार बीजिंग और लंदन में ओलंपिक चैंपियन बने।

कोबे ब्रायंट लॉस एंजिल्स लेकर्स क्लब के इतिहास में सबसे महान बास्केटबॉल खिलाड़ी हैं। उनका 24 नंबर टीम में स्थायी रूप से प्रचलन से हटा लिया गया है। कोबी को बार-बार अपने देश के सर्वश्रेष्ठ एथलीट के रूप में भी पहचाना जाता था, और स्पोर्ट्स इलस्ट्रेटेड पत्रिका ने उन्हें दस सबसे सफल एथलीटों की सूची में शामिल किया। कोबे ब्रायंट की जीवनी – Kobe Bryant Biography Hindi 

अंतरराष्ट्रीय करियर

अमेरिका की राष्ट्रीय टीम के साथ ब्रायंट का सीनियर अंतरराष्ट्रीय करियर 2006 में शुरू हुआ। वे 2007 की अमेरिका की पुरुषों की सीनियर राष्ट्रीय टीम तथा यूएसए एफआईबीए अमेरीकास चैम्पियनशिप टीम के सदस्य थे जिसने 10-0 के साथ समाप्त किया, स्वर्ण पदक जीता तथा अमेरिकी पुरुषों की टीम को 2008 के ओलम्पिक में स्थान दिलवाया. वे यूएसए के एफआईबीए अमेरीकास चैम्पियनशिप के सभी 10 गेमों में खेले थे। टीम में मेड तथा अटेम्प्टेड फ्री थ्रोज के लिए उनका स्थान तीसरा है और मेड फील्ड गोल्स तथा मेड 3-पॉइंटर्स के लिए चौथा। एफआईबीए अमेरीकास चैम्पियनशिप के सभी प्रतियोगियों में से स्कोरिंग के लिए ब्रायंट का 15वां स्थान, एसिस्ट्स के लिए 14वां, तथा स्टील्स के लिए आठवां स्थान है। ब्रायंट ने दस में से आठ गेमों में दहाई अंकों को पार किया था। ब्रायंट ने मात्र कुछ सेकंड्स शेष रहते फाउल लाइन के ऊपर से एक गेम विनिंग 14 फीट (4.3 मी॰) जम्पर शॉट लगाया था। .530 शूटिंग प्रतिशत के साथ उनका वर्तमान औसत है 16.3 अंक,2.2 रिबाउंड्स, तथा 3.1 एसिस्ट्स।

अपने अंतरराष्ट्रीय विस्तार के एक हिस्से के रूप में वे ‘कोबी मेंटू ‘ नामक एक चीनी रिएलिटी शो का हिस्सा हैं जो चीनी बास्केटबॉल खिलाडियों को विभिन्न अभ्यास तथा खेलने की तैयारी करते हुए दिखाता है, जबकि ब्रायंट अभ्यास करते समय खिलाडियों को सलाह तथा प्रोत्साहन प्रदान करते हैं।

23 जून 2008 को उन्हें 2008 के ग्रीष्मकालीन ओलिंपिक के लिए अमेरिका की पुरुषों की राष्ट्रीय सीनियर टीम का हिस्सा बनाया गया। वे अपने जीवन में पहली बार ओलंपिक टीम का हिस्सा बने थे। ब्रायंट के 20 अंकों, जिसमे से 13 चौथे क्वार्टर में बनाये थे, तथा 6 एसिस्ट्स की सहायता से अमेरिकी टीम ने 24 अगस्त 2008 को 2008 के ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक के स्वर्ण पदक मुकाबले में स्पेन को 118-107 से परास्त किया था। 2000 के ओलम्पिक के बाद से किसी अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में यह अमेरिका का पहला स्वर्ण पदक था। ओलम्पिक के आठ मुकाबलों में उनका औसत रहा 15.0 अंक, 2.8 रिबाउंड्स तथा 2.1 एसिस्ट्स जबकि उनकी फील्ड शूटिंग .462 की रही.

लोकप्रियता

कोबे के खेल की खासियत इसी बात से समझी जा सकती है की 1996 में उन्हे हाईस्कूल से सीधे एनबीए के लिए ड्राफ्ट किया गया। लॉस एंजिलिस लेकर्स को दिए 20 सालों में 18 साल वह ऑल स्टार टीम का हिस्सा रहे। ऑल स्टार टीम में हर साल वे सात खिलाड़ी चुने जाते है, जो टूर्नामेंट में सर्वश्रेष्ठ रहते है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी ब्रायन ने अपना जलवा कायम रखा और अमेरिकी टीम को 2008 बीजिंग ओलंपिक और 2012 लंदन ओलंपिक में स्वर्ण पदक दिलाया। 2016 में चोट के बावजूद उन्होने हार नहीं मानी और अपने आखिरी गेम में लेकर्स के लिय 60 अंक हासिल किए। 2016 में रिटायर होने वाले कोबे ने 2008 में एनबीए के सबसे अहम खिलाड़ी का खिताब हासिल किया था।

बास्केटबॉल से ऑस्कर तक

कोबे ने साल 2015 में बास्केटबॉल को एक पत्र लिखा था। जब इस पत्र पर डीयर बास्केटबॉल नाम से एक शॉर्ट एनिमेटेड फिल्म बनाई गई तो इसे ऑस्कर पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

आरोप

2003 की गर्मियों में ईगल कोलोराडो के शेरिफ ने फेबर कैटलिन नामक 19 वर्षीय होटल कर्मचारी द्वारा दायर किये गए एक यौन उत्पीड़न मामले की जाँच के सिलसिले में ब्रायंट को गिरफ्तार कर लिया। ब्रायंट अपने टखने की सर्जरी के लिए ईगल में स्थित कौर्दिलेरा होटल के लौज तथा स्पा में ठहरे थे। फेबर ने ब्रायंट पर अपनी सर्जरी से पहले की रात अपने होटल के कमरे में उनका बलात्कार करने का आरोप लगाया. ब्रायंट ने उनके साथ यौन संबंध स्थापित करने की बात तो स्वीकारी, लेकिन यौन उत्पीड़न के आरोप का खंडन किया। कोबे ब्रायंट की जीवनी – Kobe Bryant Biography Hindi 

इस आरोप के कारण ब्रायंट की प्रतिष्ठा को काफी धक्का पहुंचा क्योंकि जानता के बीच उनकी छवि खराब होने के कारण मैकडॉनल्ड्स तथा न्यूटेला के साथ उनके विज्ञापनों के अनुबंध को समाप्त कर दिया गया। ब्रायंट की तस्वीर वाली जर्सी की बिक्री काफी कम हो गयी। हालांकि, सितंबर 2004 में फेबर द्वारा गवाही देने से इंकार करने के बाद इस मामले को अभियोजन पक्ष द्वारा वापस ले लिया गया। उसके बाद ब्रायंट इस घटना के लिए फेबर से माफ़ी मांगने को सहमत हो गये और सार्वजानिक रूप से कहा, “हालाँकि मैं सच्चे दिल से यह मानता हूँ कि हमारा यह संबंध आपसी सहमती पर आधारित था, लेकिन अब मुझे ऐसा लगता है कि वे (फेबर) इसे उसे रूप में नहीं देखती हैं जिसमे मैं देखता हूँ.” फेबर ने ब्रायंट के खिलाफ अलग से एक सिविल मुकदमा दायर किया जिसे बाद में दोनों पक्षों में आपसी सहमति से निपटा लिया, इस निपटान की विशिष्ट शर्तों को लोगों से छुपाकर रखा गया।

मृत्यु

26 जनवरी 2020 को कोबे ब्रायंट और उनकी 13 वर्षीय बेटी की हेलिकॉप्टर दुर्घटना ग्रस्त होने के कारण उनकी मौत हो गई।

इस हादसे में उनके अलावा सात अन्य लोग मारे गए। उनके नाम जॉन एल्टोबेली, कैरी एल्टोबेली, एलीसा एल्टोबेली, क्रिस्टीना मौसेर, एरा जोबायन, पेटोन व साराह चेस्टर है।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close