https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-86233354-15
Biography Hindi

मधुबाला की जीवनी – Madhubala Biography Hindi

मधुबाला (English – Madhubala) प्रसिद्ध भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री हैं। मधुबाला भारतीय फ़िल्म इतिहास की सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्रियों में से एक हैं। उहोने मुग़ल-ए-आज़म’, ‘हावडा ब्रिज’, ‘काला पानी’ तथा ‘चलती का नाम गाडी जैसी फ़िल्मों में काम किया।

मधुबाला की जीवनी – Madhubala Biography Hindi

Madhubala Biography Hindi
Madhubala Biography Hindi

संक्षिप्त विवरण

नाममधुबाला
पूरा नाम,

अन्य नाम

मुमताज़ जहाँ बेगम देहलवी

वीनस क्वीन

जन्म 14 फरवरी, 1933
जन्म स्थानदिल्ली, भारत
पिता का नामअताउल्लाह ख़ान
माता  का नामआयशा बेगम, मुमताज जहां
राष्ट्रीयता भारतीय
मृत्यु
मृत्यु स्थान
 23 फरवरी 1969

मुंबई

मृत्यु  कारण
दिल में छेद

जन्म

मधुबाला का जन्म 14 फरवरी, 1933 को दिल्ली में हुआ। उनका पूरा नाम मुमताज़ जहाँ बेगम देहलवी था। उनके पिता का नाम अताउल्लाह ख़ान था जोकि दिल्ली में एक कोचमैन के रूप मे कार्यरत थे। मधुबाला अपने माता-पिता की 5वीं सन्तान थी। उनके माता-पिता के कुल 11 बच्चे थे। मधुबाला का विवाह  किशोर कुमार से हुआ।

करियर की शुरुआत

1942 में Madhubala को बतौर बाल कलाकार बेबी मुमताज़ के नाम से फ़िल्म ‘बसंत’ में काम करने का मौक़ा मिला। बेबी मुमताज़ के अभिनय से प्रभावित होकर हिन्दी फ़िल्मों की जानी-मानी अभिनेत्री देविका रानी ने उनसे अपने बैनर ‘बाम्बे टाकीज’ की फ़िल्म ‘ज्वार भाटा’ में काम करने की पेशकश की लेकिन मधुबाला उस फ़िल्म मे काम नहीं कर सकी। मधुबाला को फ़िल्म अभिनेत्री के रूप में पहचान निर्माता निर्देशक केदार शर्मा की वर्ष 1947 मे प्रदर्शित फ़िल्म ‘नील कमल’ से मिली। इस फ़िल्म के असफल होने से भले ही वह कुछ ख़ास पहचान नहीं बना पायीं लेकिन बतौर अभिनेत्री उनका सिने कैरियर अवश्य शुरू हो गया।

1949 तक मधुबाला की कई फ़िल्में प्रदर्शित हुई लेकिन इनसे मधुबाला को कुछ ख़ास फ़ायदा नहीं हुआ। वर्ष 1949 मे बॉम्बे टाकीज के बैनर तले बनी फ़िल्म ‘महल’ की कामयाबी के बाद मधुबाला फ़िल्म इंडस्ट्री मे अपनी पहचान बनाने में सफल हो गयीं। इस फ़िल्म का एक गीत ‘आयेगा आने वाला…’ सिने दर्शक आज भी नहीं भूल पाये है।

1950 से 1957 तक का वक्त मधुबाला के सिने कैरियर के लिये बुरा साबित हुआ। इस दौरान उनकी कई फ़िल्में बॉक्स ऑफिस पर असफल हो गयीं। लेकिन 1958 में उनकी फागुन, हावडा ब्रिज, काला पानी तथा चलती का नाम गाड़ी की सफलता ने एक बार फिर मधुबाला को शोहरत की बुंलदियों पर पहुँचा दिया। फ़िल्म हावड़ाब्रिज में मधुबाला ने क्लब डांसर की भूमिका अदा कर दर्शकों का मन मोह लिया। इसके साथ ही वर्ष 1958 में हीं प्रदर्शित फ़िल्म चलती का नाम गाड़ी में उन्होंने अपने कॉमिक अभिनय से दर्शकों को हंसाते-हंसाते लोटपोट कर दिया।

 

प्रमुख फ़िल्में
वर्षफ़िल्म का ना
1934बगदाद का चोर
1936शहीद-ए-मोहब्बत
1942बसंत
1944मुमताज महल
1945धन्ना भगत
1946राजपूतानी
1946पुजारी
1946फुलवारी
1947सात समुंदरों की मलिका
1947मेरे भगवान
1947खूबसूरत दुनिया
1947दिल की रानी
1947चित्तौड़ विजय
1947नील कमल
1948पराई आग
1948लाल दुपट्टा
1948देश सेवा
1948अमर प्रेम
1949सिपहिया
1949सिंगार
1949पारस
1949नेकी और बदी
1949महल
1949इम्तिहान
1949दुलारी
1949दौलत
1949अपराधी
1950परदेश
1950निशाना
1950निराला
1950मधुबाला
1950हँसते आँसू
1950बेकसूर
1951तराना
1951सैंया
1951नाज़नीन
1951नादान
1951खजाना
1951बादल
1951आराम
1952साकी
1952संगदिल
1953रेल का डिब्बा
1953अरमान
1954बहुत दिन हुये
1954अमर
1955तीरंदाज
1955नकाब़
1955नाता
1956शीरी फरहाद
1956राज हठ
1956ढाके का मलमल
1957यहूदी की लड़की
1957गेटवे आफ इंडिया
1957एक साल
1958पोलिस
1958फागुन
1958कालापानी
1958हावड़ा ब्रिज
1958चलती का नाम गाड़ी
1958बाग़ी सिपाही
1959कल हमारा है
1959इंसान जाग उठा
1959दो उस्ताद
1960महलों के ख्वाब
1960जाली नोट
1960बरसात की रात
1960मुग़ल ए आज़म
1961पासपोर्ट
1961झुमरू
1961ब्वाय फ्रेंड
1962हाफ टिकिट
1964शराबी
1971ज्वाला

विवाद

एक बार उनके पिता ने मधुबाला को बी. आर. चोपड़ा की फिल्म नया दौर (1957) की भोपाल में शूटिंग करने की अनुमति नहीं दी, क्योंकि उस फिल्म में दिलीप कुमार मुख्य अभिनेता के रूप में थे और उनके पिता को मधुबाला और दिलीप की नजदीकियां पसंद नहीं थी। बी. आर चोपड़ा ने अपनी फिल्म के लिए मधुबाला को एडवांस में रुपए दिए हुए थे, जिसके चलते दिलीप कुमार और बी. आर चोपड़ा ने मिलकर मधुबाला के खिलाफ अदालत में केस दायर किया।

मृत्यु

मधुबाला जी का निधन 23 फरवरी 1969 को मुम्बई में हुआ।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close