Biography Hindi

मनोज मुकुंद नरवणे की जीवनी – Manoj Mukund Naravane Biography Hindi

मनोज मुकुंद नरवणे (English – Manoj Mukund Naravane) जनरल एमएम नरवणे अभी भारतीय थल सेना के 27 वे अध्यक्ष (COAS) है। भारत सरकार ने 2019 को जनरल बिपिन रावत को सेना अध्यक्ष से प्रमोट करके (CDS) बनाया था जिसके बाद जनरल एमएम नरवणे को अगला सेना अध्यक्ष बना दिया था।

हाल ही में 8 दिसंबर 2021 को CDS जनरल बिपिन रावत का एक हेलीकॉप्टर हादसे में निधन हो गया जिसके बाद भारतीय सेना में सभी जनरल में से एमएम नरवणे को सबसे वरिष्ठ जनरल माना जा रहा है। और अनुमान ये भी लगाया जा रहा है की अगले भारतीय CDS एमएम नरवणे होंगे।

मनोज मुकुंद नरवणे की जीवनी – Manoj Mukund Naravane Biography Hindi

Manoj Mukund Naravane Biography Hindi
Manoj Mukund Naravane Biography Hindi

संक्षिप्त विवरण

नाममनोज मुकुंद नरवणे
अन्य नाम
Gen Naravane
जन्म22 अप्रैल 1960
जन्म स्थानपुणे, बॉम्बे स्टेट में
पिता का नाममुकुंद नरवणे
माता का नामसुधा नरवणे
पत्नी का नामवीना नरवणे
राष्ट्रीयता भारतीय

जन्म

जनरल एमएम नरवणे का जन्म 22 अप्रैल 1960 को पुणे, भार.त में हुआ था जो तब बॉम्बे स्टेट का हिस्सा हुआ करता था जिसे आज हम महाराष्ट्र स्टेट से जानते है। उनके पिता मुकुंद नरवणे भारतीय वायु सेना में ऑफिसर थे जो बाद में विंग कमांडर रैंक से सेवा निवृत्त हुए। उनकी माता का नाम सुधा नरवणे है जो एनाउंसर के रूप में काम किया करती थी ऑल इंडिया रेडियो सेशन में।

शिक्षा

एमएम नरवणे ने अपनी स्कूली सिक्षा पुणे के जनता प्रबोधनी प्रशाला से की, जिसके बाद उन्होने पुणे के नेशनल डिफेंस अकादमी, देहरादून के इंडियन मिलिट्री अकादमी, विलिंगटन के डिफेंस सर्विसेस स्टाफ कॉलेज, महू (mhow) के आर्मी वार कॉलेज में दाखिलात लिया और अपनी शुरवती पढ़ाई यहाँ से की,

जनरल नरवणे ने इसके बाद अपनी उच्च शिक्षा हासिल की एम. ए, में मद्रास यूनिवर्सिटी से, जो की डिफेन्स स्टडी में थी, एम. फील, किया इदौर के अहिल्या विश्व विद्यालय से, डिफेंस एंड मैनेजमेंट स्टडीज में। और अभी वो डिफेंस एंड स्ट्रेटेजिक स्टडीज में अपने डॉक्टरेट की पढ़ाई कर रहे है, पंजाब यूनिवर्सिटी, पटियाला से।

करियर

एमएम नरवणे को भारतीय सेना में कमीशन किया गया था 1980 में सिख लाइट इन्फेंट्री के 7वी बटालियन में और तब से अब तक उन्होंने 40 साल तक भारतीय सेना में सेवा की है इसी आपने मिलिट्री कार्यकाल में उन्होंने अलग – अलग पोस्ट हासिल की और अपनी सेवा देते रहें उन्होने भारतीय सेना में शुरवात की थी उत्तर (north) के इंस्पेक्टर जनरल रैंक से और अभी वो भारतीय सेना के अध्यक्ष है

एमएम नरवणे जम्मू कश्मीर में कमांड संभाल चुके है राष्ट्रिय रायफल के सेकेंड बटालियन (SikhLi यानी Sikh Light Infantry) में, उन्होने अपनी सर्विस कोहिमा, नागालैंड में इंस्पेक्टर जनरल के पद पर रहते हुए असम राइफल्स और 106 इन्फेंट्री ब्रिगेड में दी है। उसी के साथ उन्होने भारत के ऑपरेशन पवन के अंडर श्रीलंका में पिस कीपिंग फॉर्स में अपनी भागीदारी दी

जब वे ब्रिगेड मेजर थे उनको असाइन किया गया था इन्फेंट्री ब्रिगेड के मेजर के रुप में उसके बाद उन्हें प्रमोटर किया गया था लेफ्टिनेंट जनरल के पद पर जहा उन्होने अंबाला बेस्ड खरगा स्ट्राइक कॉर्प्स और जनरल कमांडिंग ऑफिसर दिल्ली एरिया को संभाला था। अपने जनरल कमांडिंग ऑफिसर के पद को संभालते वक्त उन्होने 2017 के गणतंत्र परेड को कमांड किया था।

उनका आर्मी कमांडर ग्रेड रैंक के प्रमोशन के बाद उन्होने काम किया आर्मी ट्रेनिंग कमांड और इस्टर्न कमांड में जहाँ वो जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ थे। और हालही में प्रधान मंत्री के द्वार CDS का नया पद बनाए जाने के बाद एमएम नरवणे को भारत के सेना प्रमुख के पद पर प्रमोट किया गया था। इससे पहले उन्हें 1 सितंबर 2019 को वाइस चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ के पद पर रखा गया था।

भविष्य में हो सकता है वो भारत के CDS पद के लिए चुने जाए। जिसके बाद एमएम नरवाने भारत के दुसरे CDS हो सकते है।

उन्होंने अपने एक भाषण में कहा था भारत में CDS का पद बनना और थिएटर कमांड पर जोर देना इतिहास में सबसे अच्छे रिफॉर्म्स में से एक है। थिएटर कमांड को पूरी तरह से बनाए जाने के बाद भारत की सेना अधुकिन सेना हो जाएगी, क्यू की थिएटर कमांड को और कुछ साल लग सकते है पर एक बार बन जाने के बाद सेना में इसका अच्छा परिणाम होगा।

भारत में CDS का पद चार सितारा (4 star rank) वाला है और उसी तरह आर्मी, नेवी, एयरफोर्स के सेना प्रमुखों का भी पद चार सितारा का है और उनकी सैलरी भी सेम है। पर उनके काम-काज में काफी फर्क है।

भारतीय सेना में CDS और थिएटर कमांड के नए रिफॉर्म अभी हुए है जो भारतीय सेना के काम-काज को, जैसे की
सेना के लॉजिस्टिक, संचार, और तीनो सेनाओं के कोऑर्डिनेशन को सुधरेगा जिससे युद्ध के स्थिति पर सेना अच्छे से
काम करेगी।

दुनियां के बड़े देश जैसे की यूएस (US), चीन (China) में पहले ही CDS और थिएटर कमांड है।

एमएम नरवणे की पर्सनल लाइफ के बारे में

एमएम नरवाने ने वीना नरवाने से शादी की, उनकी दो बेटियां है, वीना नरवाने 25 साल से अध्यापिका है और उसी के साथ वे हेड है आर्मी वाइव्स एसोसिएशन की।

एमएम नरवणे की रैंक्स – MN Naravane Ranks List

लेफ्टिनेंट7 जून 1982
कैप्टन7 जून 1985
मेजर7 जून 1991
लेफ्टिनेंट कर्नल31 दिसंबर 2002
कर्नल1 फरवरी 2005
ब्रिगेडियर19 जुलाई 2010
मेजर जनरल1 जनवरी 2013
लेफ्टिनेंट जनरल10 नवंबर 2015
जनरल (COAS)31 दिसम्बर 2019

सम्मान और पुरस्कार

जैसा की हमने देखा जनरल एमएम नरवणे ने भारतीय सेना में अपनी सेवा 40 सालों से की और अब भी कर रहे है तो इसी बीच उन्हे काफी सम्मान और पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। जिसे हम नीचे नंबर वाइस देखेंगे

  1. परम् विशिष्ट सेवा मेडल
  2. अति विशिष्ट सेवा मेडल
  3. सेना मेडल
  4. विशिष्ट सेवा मेडल
  5. सामान्य सेवा मेडल
  6. स्पेशल सर्विस मेडल
  7. ऑपरेशन पराक्रम मेडल
  8. सैन्य सेवा मेडल
  9. विदेश सेवा मेडल
  10. 50 वे एनिवर्सरी ऑफ इंडिपेंडेंस मेडल
  11. 30 इयर्स लॉन्ग सर्विस मेडल
  12. 20 इयर्स लॉन्ग सर्विस मेडल
  13. 9 इयर्स लॉन्ग सेवा मेडल

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close