नारायण मल्हार जोशी की जीवनी – N. M. Joshi Biography Hindi

July 27, 2019
Spread the love

नारायण मल्हार जोशी को देश में ट्रेड यूनियन आंदोलन का जनक माना जाता है। वे 1909 में सर्वेंट्स ऑफ इंडिया सोसाइटी से जुड़े। 1911 में सोशल सर्विस लीग शुरू किया। उन्होने मजदूरों की समस्याओं को दूर करने के उद्देश्य से 1921 में उन्होंने ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस शुरू किया। 1925 से 1929 तक वे इसके महासचिव भी रहे। इसके साथ ही वे 1922 से 1948 तक में अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन में भारतीय मजदूरों का प्रतिनिधित्व करते रहे। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको नारायण मल्हार जोशी की जीवनी – N. M. Joshi Biography Hindi के बारे में बताएंगे।

Read This -> मनोहर लाल खट्टर की जीवनी – Manohar Lal Khattar Biography Hindi

नारायण मल्हार जोशी की जीवनी – N. M. Joshi Biography Hindi

नारायण मल्हार जोशी की जीवनी - N. M. Joshi Biography Hindi

जन्म

नारायण मल्हार जोशी का जन्म 5 जून 1879 में महाराष्ट्र के कोलाबा जिले के गोरेगांव में हुआ था। भारत उसी को एन. एम. जोशी के नाम से जाना जाता था। उनके पिता एक अमीर और एक प्रसिद्ध ज्योतिषी थे। उनका विवाह रमाबाई  के साथ हुआ था। नारायणराव के दो भाई महादेवराव और वामनराव क्रमशः संस्कृत पंडित और मराठी साहित्यकारों के रूप में  काफी प्रसिद्ध हुए।

शिक्षा

नारायणराव की वेद अध्ययन और प्राथमिक शिक्षा गोरेगांव में पूरी हुई। अपने बड़े भाई महादेव राव के आग्रह पर, वे अंग्रेजी पढ़ने के लिए पुणे चले गए। 1908 में डेक्कन कॉलेज में स्नातक करने के बाद, जोशी ने अहमदनगर में सूखा पीड़ितों के लिए सरकार द्वारा संचालित भोजन आश्रय में छह महीने तक काम किया।

Read This -> बंसी लाल की जीवनी – Bansi Lal Biography Hindi

करियर

1909 ई. में ‘भारत सेवक समाज’ के सदस्य बनकर वे इससे कई वर्षों तक जुड़े रहे। वे ‘बॉम्बे सोशल सर्विस लीग’, ‘रिलीज्ड पेंशन एण्ड सोसायटी’, ‘लीगल एण्ड सोसायटी’, ‘बॉम्बे प्रेसीडेन्सी सोशल रिफॉर्म एसोसिएशन’, ‘इण्डियन ट्रेड यूनियन कांग्रेस’ तथा ‘सिविल लिबर्टीज यूनियन’ आदि संस्थाओं से घनिष्ठ रूप से जुड़े रहे थे। एन. एम. जोशी का सबसे महत्त्वपूर्ण योगदान श्रमिक कल्याण के कार्यों तथा श्रमिक हितों से संघर्ष करना था। मजदूरों की समस्याओं को दूर करने के उद्देश्य से 1921 में उन्होंने ऑल इंडिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस शुरू किया। 1925 से 1929 तक वे इसके महासचिव भी रहे।  1922 से 1948 तक में अंतर्राष्ट्रीय श्रम संगठन में भारतीय मजदूरों का प्रतिनिधित्व करते रहे।

Read This -> भजन लाल की जीवनी – Bhajan Lal Biography Hindi

योगदान

एम. एम. जोशी ‘ऑल इण्डिया ट्रेड यूनियन कांग्रेस’ में लम्बे समय तक नरमपंथी वर्ग का नेतृत्व करते रहे। नारायण मल्हार जोशी 1947 ई. में ‘केन्द्रीय वेतन आयोग’ के एक सदस्य भी रहे। उन्होंने समाज सेवा में भी काफी रुचि ली एवं महिलाओं व बच्चों के लिए कई चिकित्सालयों की स्थापना करवाई। उन्होंने औद्योगिक प्रशिक्षण के लिए भी विद्यालयों की स्थापना करवाई थी।

Read This -> विजय सिंह पथिक की जीवनी – Vijay Singh Pathik Biography Hindi

मृत्यु

30 मई 1955 को 75 वर्ष की आयु में नारायण मल्हार जोशी की बंबई, महाराष्ट्र, भारत में उनकी मृत्यु हो गई।

Leave a comment