सचिन पायलट की जीवनी – Sachin Pilot Biography Hindi

Spread the love

सचिन पायलट भारतीय राजनीतिज्ञ वर्तमान राजस्थान सरकार में उपमुख्यमंत्री है। वे भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी से संबंध रखते हैं। वे भारत के सबसे कम उम्र सदस्यों मे से एक है 26 साल की उम्र में लोकसभा के लिए राजस्थान के दौसा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के सबसे कम उम्र के सांसद के रूप में चुने गए। 2009 में वे अजमेर संसदीय निर्वाचन क्षेत्र से लोकसभा के लिए फिर से चुने गए और यूपीए सरकार में राज्य मंत्री बने। वे मई 2009 से मई 2014 तक केंद्र में मंत्री रहे। 2009 में बीजेपी की किरण महेश्वरी को हराकर पायलट को 15 में लोकसभा में फिर से निर्वाचित किया गया। इसके बाद में राजस्थान सरकार के अधीन उन्होंने 2009 से 28 अक्टूबर 2012 तक केंद्रीय राज्य संचार और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री के रूप में भी कार्य किया। सचिन पायलट एक राजनेता होने के साथ-साथ युवाओं के लिए आदर्श व मोटिवेशनल वक्ता भी हैं। उन्हें भारतीय राजनीति का नया रूप माना जाता हैं. जो इनके व्यक्तित्व में साफ़ झलकता है। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको सचिन पायलट की जीवनी- Sachin Pilot Biography Hindi के बारे में बताएंगे

सचिन पायलट की जीवनी- Sachin Pilot Biography Hindi

जन्म

सचिन पायलट का जन्म 7 दिसंबर, 1977 को सहारनपुर उत्तर प्रदेश, भारत में हुआ था। उनके पिता का नाम राजेश पायलट था और उनके माता का नाम श्रीमती रामा पायलट था। पायलट ने 2004 में सारा अब्दुल्ला से विवाह किया था। सारा अब्दुल्ला जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारूक अब्दुल्लाह की बेटी है। सचिन पायलट की दो संतानें है उनका नाम आरान पायलट और वेहान पायलट है। सचिन पायलट के पिता स्वर्गीय राजेश पायलट जो कि कांग्रेस के दिग्गज नेताओं में से एक थे।

शिक्षा

सचिन पायलट की प्रारंभिक शिक्षा नई दिल्ली के एयर फोर्स बाल भारती स्कूल में हुई। उन्होंने अपने स्नातक की शिक्षा दिल्ली विश्वविद्यालय के सेंट स्टीफेंस महाविद्यालय से प्राप्त की। इसके पश्चात उन्होंने अमरीका स्थित पेंसिलवानिया विश्वविद्यालय के व्हॉर्टन स्कूल से एम० बी० ए० की डिग्री भी हासिल की। सचिन ने अपनी आरम्भिक शिक्षा दिल्ली की आर्मी स्कूल से पूरी की इसके बाद मैनेजमेंट की पढ़ाई उन्होने अमेरिका के पेन्सिल्वेनिया से प्राप्त की थी।

करियर

सचिन पायलट ने 2002 में अपने पिता के जन्मदिन10 फ़रवरी के दिन कांग्रेस से जुड़ने के साथ अपने राजनीतिक जीवन का पदार्पण किया। वे 14वीं लोकसभा में कांग्रेस की ओर दौसा से चुनाव लड़े और अपनी जीत दर्ज की। उस समय उनकी आयु केवल 26 वर्ष थी, जो भारत में सबसे कम उम्र में सांसद बनने का कीर्तिमान भी था। इसके बाद वे 15वीं लोकसभा (2009) के लोकसभा के चुनाव में वे अजमेर से सांसद चुने गए।

सचिन पायलट पहले ऐसे भारतीय केंद्रीय मंत्री हैं, जिन्‍होंने क्षेत्रीय सेना में अपनी सेवा दी है, वे 6 सितंबर, 2012 को क्षेत्रीय सेना में शामिल हुए। 21 जनवरी 2014 से उन्‍होंने राजस्थान के कांग्रेस के नए प्रदेशाध्‍यक्ष का पद भी संभाला है। प्रदेशाध्‍यक्ष होने के नाते आगामी लोकसभा चुनाव में सचिन पायलट की भूमिका और भी अहम हो गई।

कार्यकाल

  • सचिन पायलट का सांसद कार्यकाल -2009 – 2014 तक
  • केन्द्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री, भारत सरकार – 28 अक्टूबर 2012 – 17 मई 2014
  • राजस्थान के उपमुख्यमंत्री –  17 दिसम्बर 2018 को कार्यभार ग्रहण किया।

अन्य जानकारी

सचिन पायलट को उड़ान भरने का शौक है और वह एक अच्छे शूटर भी है। उन्हें 1995 में एनवाई, यूएसए से अपना निजी पायलट लाइसेंस (पीपीएल) भी प्राप्त किया है। शूटिंग में, उन्होंने कई राष्ट्रीय राइफल और पिस्तौल शूटिंग चैम्पियनशिप में दिल्ली का प्रतिनिधित्व किया। उन्हें क्षेत्रीय सेना में लेफ्टिनेंट के रूप में भी सेवाएं दी हैं। इसलिए उन्हें क्षेत्रीय सेना में लेफ्टिनेंट पायलट के रूप में भी जाना जाता है। किसानों और युवाओं से जुड़े मुद्दों पर सचिन काफी रुचि लेते हैं। उन्हें घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय समाचार और वर्तमान मामलों, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और अर्थशास्त्र, कृषि और ग्रामीण विकास, रणनीतिक और विदेशी संबंधी मामलों में विशेष रूचि है।

पुस्तक

उन्होंने 2001 में अपने पिता पर एक पुस्तक लिखी, पुस्तक का शीर्षक “राजेश पायलट: इन स्पिरिट फॉरएवर” है।