https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-86233354-15
Biography Hindi

सपना चौधरी की जीवनी – Sapna Choudhary Biography Hindi

सपना चौधरी एक भारतीय डांसर, अभिनेत्री और गायिका है। सपना टीवी रियलिटी शो बिग बॉस 11 की प्रतिभागी रह चुकी है। उन्होंने नानू की जानु, भांगओवर और वीरे की वेडिंग जैसी कुछ बॉलीवुड फिल्मों में आइटम सॉन्ग भी किया है। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको सपना चौधरी की जीवनी – Sapna Choudhary Biography Hindi के बारे में बताएंगे।

सपना चौधरी की जीवनी – Sapna Choudhary Biography Hindi

सपना चौधरी की जीवनी

जन्म

सपना चौधरी का जन्म एक मध्यवर्गीय परिवार में 25 सितंबर 1990 को हरियाणा, रोहतक में हुआ था। उनकी के माता का नाम नीलम चौधरी है। सपना के पिता एक निजी कंपनी में काम करते थे।  सपना चौधरी के पिता की मृत्यु के बाद सारी जिम्मेवारी सपना पर आ गई। सपना चौधरी का बचपन से ही शौक नृत्य और गायन था। जो बाद में उसने अपना व्यवसाय बनाया और इस कला के माध्यम से उन्होंने पैसा और शोहरत कमाई। इसके साथ-साथ उन्होंने फिल्मों में भी काम किया।

करियर

सपना चौधरी ने अपने काम की शुरुआत हरियाणा के आर्केस्ट्रा टीम के साथ की। इसके साथ ही सपना ने अपने करियर की शुरुआत रागनी कलाकारों की टीम के साथ मिलकर की। सपना चौधरी हरियाणा में और आसपास के क्षेत्रों में रागनी प्रोग्राम में और रागनी पार्टियों में हिस्सा लेती थी। इसके बाद उन्होंने स्टेज पर डांस करना शुरू किया। सपना चौधरी ने एक हरियाणवी गाने ‘सॉलिड बॉडी रे’ मोर म्यूजिक कंपनी द्वारा रिलीज हुए गाने पर डांस किया। तो उनका वीडियो हिट हुआ जिसके बाद सपना को हरियाणा के साथ-साथ अन्य राज्यों में भी पहचान मिली। सपना चौधरी ने 20 से अधिक गानों में अपनी आवाज दी है।

सपना चौधरी ने जर्नी ऑफ भांगओवर आइटम सॉन्ग में बॉलीवुड में डेब्यू किया।। इसके बाद में सपना चौधरी वीरे की वेडिंग फिल्म के सॉन्ग ‘हट जा ताऊ’ में नजर आई । अभय देओल फिल्म नानू की जानू में सपना चौधरी ने काम किया और ‘तेरे ठुमके सपना चौधरी‘ एक आइटम सॉन्ग भी किया है। सपना चौधरी ने शो टीवी रियलिटी शो बिग बॉस सीजन 11th की प्रतिभागी रही है। लाडो- वीरपुर की मरदानी सीजन 2 में 2018 में कलर्स टीवी पर आई।

फिल्म

  • ‘जर्नी ऑफ भांगओवर’ 2017 में  हिंदी भाषा में
  •  2017 में  ‘एक तू और एक मै’
  • 2018 में ‘नानू की जानू’, हिंदी भाषा में फिल्म
  • 2018 में ‘वीरे की वेडिंग’  हिंदी भाषा में
  • और 2018 में ‘दोस्ती के साइड इफेक्ट’  हिंदी भाषा में

विवाद

17 फरवरी 2016 को गुड़गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में सपना चौधरी ने एक रागनी गाई जिस में दलितों पर आरोप के अनुसार जाति सूचक शब्द बोले गए थे। रागनी के गाने पर आपत्ति के कारण दलित संगठन बहुजन आजाद मोर्चा पार्टी के सदस्य अध्यक्ष सतपाल तंवर ने सपना के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई थी।

सपना चौधरी के खिलाफ गुड़गांव के सेक्टर 29 थाने में एफआईआर दर्ज की गई थी। जिस पर पुलिस ने कार्रवाई की सपना के खिलाफ एससी एसटी एक्ट के तहत भारतीय दंड संहिता की धारा 34 के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। मामले की जांच के लिए एसआईटी टीम भी बनाई गई थी।

मामले में सपना ने जनता से सार्वजनिक रूप से माफी मांगी थी। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार माफी मांगने के बाद भी दलित संगठनों द्वारा उनके अभियान सोशल मीडिया साइट पर शुरू किया गया था। जिस पर उनके खिलाफ लगातार आपत्तिजनक टिप्पणी की जा रही थी। इन सबसे परेशान होकर सपना ने खुदकुशी करने की कोशिश की।29 सितंबर 2016 को पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट द्वारा सपना चौधरी को जमानत मिल गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close