https://www.googletagmanager.com/gtag/js?id=UA-86233354-15
Biography Hindi

स्वामी चिन्मयानंद की जीवनी – Swami Chinmayanand Biography Hindi

चिन्मयानंद बीजेपी के कद्दावर नेता और पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री रह चुके हैं। उन्होने राम मंदिर आंदोलन से राजनीति की शुरुआत की। छात्रा से दुष्कर्म के मामले में वे कुछ समय से सुर्खियों में रह रहे है और इसी के चलते 20 सितंबर 2019 को उन्हे गिरफ्तार कर किया गया। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको स्वामी चिन्मयानंद की जीवनी – Swami Chinmayanand Biography Hindi के बारे में बताएगे।

स्वामी चिन्मयानंद की जीवनी – Swami Chinmayanand Biography Hindi

चिन्मयांद की जीवनी - Chinmayanand Biography Hindi

जन्म

स्वामी चिन्मयानंद का जन्म 3 मार्च 1947 को यूपी के गोंडा जिले में हुआ था। उनका ताल्लुक अवध के राजघराने से है इसलिए लोग उन्हें स्वामी चिन्मयानंद के नाम से जानते हैं। उनका वास्तविक नाम कृष्णपाल सिंह है। कहा जाता है कि उन्होंने 20 साल की उम्र में ही घर छोड़ दिया था और गौतम बुद्ध महावीर स्वामी की राह पर चलते हुए संन्यास ले लिया।

शिक्षा

चिन्मयानंद ने लखनऊ यूनिवर्सिटी से एमए किया था।

करियर

चिन्मयानंद ने भाजपा के टिकट पर पहली बार उत्तर प्रदेश की बदायूं लोकसभा सीट से 1991 में चुनाव जीता और फिर राजनीति में पीछे मुड़कर नहीं देखा। इसके सात साल बाद 1998 में वह यूपी के मछली शहर और 1999 में जौनपुर लोकसभा सीट से सांसद चुने गए। इसके बाद वह वाजपेयी सरकार में केंद्रीय गृहराज्य मंत्री भी बने। चिन्मयानंद का शाहजहांपुर में आश्रम भी है और वहां वह एक लॉ कॉलेज भी चलाते हैं।

Read This -> योगी आदित्यनाथ की जीवनी – Yogi Adityanath Biography Hindi 

क्या है मामला

चिन्मयानंद के आश्रम स्थित कॉलेज में पढ़ने वाली एक छात्रा ने 24 अगस्त 2019 को वीडियो वायरल कर उन पर दुष्कर्म के आरोप लगाए थे। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने मामले कि जांच विशेष  जांच दल (एस आइटी) को सौंपी थी। इस मामले में 25 अगस्त को पीड़िता के पिता की ओर से कोतवाली शाहजहांपुर में अपहरण और जान से मारने की धाराओं में स्वामी चिन्मयानंद के विरुद्ध मामला दर्ज कराया गया था. इसके बाद स्वामी चिन्मयानंद के अधिवक्ता ओम सिंह ने पांच करोड़ रुपए रंगदारी मांगने का भी मुकदमा दर्ज करा दिया था। 16 सितंबर को पीड़िता की ओर से दिल्ली पुलिस को दी गई शिकायत पर संज्ञान लेते हुए धारा 164 में उसका बयान दर्ज कराया गया। एसआईटी ने मोबाइल, पेन ड्राइव और गवाहों के मोबाइल सीज कर उन्हें फरेंसिक लैब भेजा। छात्रा ने स्वामी चिन्मयानंद पर करीब नौ माह तक यौन शोषण करने, रेप कर उसका विडियो बनाने, नहाने का विडियो बनाने और उन्हें गायब कर साक्ष्य मिटाने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं।

गिरफ्तारी

छात्रा से दुष्कर्म के मामले में वे कुछ समय से सुर्खियों में रह रहे है और इसी के चलते 20 सितंबर 2019 को उन्हे गिरफ्तार कर किया गया। उन्हें कोर्ट ने 14 दिन के लिए जेल भेज दिया है। 23 सितंबर को इलाहाबाद हाई कोर्ट में चिन्मयानंद की पेशी है।

 

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close