Biography Hindi

विद्या स्टोक्स की जीवनी -Vidya Stokes Biography Hindi

विद्या स्टोक्स 11 मार्च, 1985 को हिमाचल प्रदेश विधान सभा की प्रथम महिला अध्यक्ष चुनी गई। उन्होने  25 दिसंबर, 2012 को हिमाचल प्रदेश के सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री के रूप में पद ग्रहण किया। वे 8 बार हिमाचल प्रदेश विधान सभा में सदस्य के रूप में निर्वाचित हो चुकी है। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको विद्या स्टोक्स की जीवनी -Vidya Stokes Biography Hindi के बारे में बताएगे।

विद्या स्टोक्स की जीवनी -Vidya Stokes Biography Hindi

जन्म

विद्या स्टोक्स का जन्म 8 दिसंबर, 1927 को शिमला जिले के कोटगढ़ में हुआ था। उनका विवाह प्रसिद्ध सामाजिक कार्यकर्ता सत्यानंद स्टोक्स के बेटे लाल चंद स्टोक्स से हुआ जो एक बाग़वान और सामाजिक कार्यकर्ता थे।

शिक्षा

विद्या स्टोक्स ने दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की पढ़ाई पूरी की।

करियर

  • विद्या स्टोक्स 11 मार्च 1985 को हिमाचल प्रदेश विधान सभा की प्रथम महिला अध्यक्ष चुनी गई।
  • वे 8 बार हिमाचल प्रदेश विधान सभा में सदस्य के रूप में निर्वाचित हो चुकी है।
  • वह हिमाचल प्रदेश विधान सभा में 1982, 1985, 1990, 1998, 2003, 2007 और 2012 में निर्वाचित सदस्य रही है।


83 साल की उम्र में विद्या स्टोक्स को परगट सिंह को हराने के बाद 5 अगस्त 2010 को हॉकी इंडिया का अध्यक्ष निर्वाचित गया।

वे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी, 1976 की मनोनीत सदस्य थीं। उन्हें 1977 में  प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव के रूप में नियुक्त किया गया था। विद्या स्टोक्स 1980 के लोकसभा चुनावों के दौरान प्रदेश कांग्रेस की वित्त समिति की अध्यक्ष थीं। वे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की पर्यवेक्षक थीं- सिक्किम, विधानसभा चुनाव, 1994, असम में कांग्रेस पार्टी का पुनः गठन, 1994, पंजाब विधान सभा, 1997 के चुनाव।

योगदान

विद्या स्टोक्स ने अंतर्राष्ट्रीय महिला 1977 के दौरान कुआलालंपुर में आयोजित एशियाई महिला सहकारी सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने भारतीय स्टेट बैंक के निदेशक के रूप में काम किया। वे 1973 से 1974 तक दिल्ली बोर्ड में रही। उन्होने चार साल तक राज्य सहकारी संघ की अध्यक्ष के रूप में कार्य किया। उन्होंने सहकारी पत्रिका के संपादकीय बोर्ड में भी काम किया।

वे राष्ट्रीय किसान मंच की उपाध्यक्ष और राष्ट्रीय किसान मंच की राज्य इकाई की अध्यक्ष हैं। वे नवंबर 1980 से 14 नवंबर 1984 तक HPMC लिमिटेड की वाइस-चेयरपर्सन भी रह चुकी है। उन्हे 1984, 1988, 1994 और 2003 में भारतीय महिला हॉकी एसोसिएशन की अध्यक्ष भी बनाया गया था।

उन्होंने कई अंतर्राष्ट्रीय खेल आयोजनों में भारत का प्रतिनिधित्व किया और भारत की महिला राष्ट्रीय क्षेत्र के साथ स्पेन में आयोजित विश्व कप के दौरान हॉकी टीम में उन्हें स्काउट्स / गाइड्स ऑर्गेनाइजेशन ऑफ स्टेट फेडरेशन ऑफ वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ इंडिपेंडेंट स्काउट्स, (डब्ल्यूएफआईएस) जर्मनी के राज्य मुख्य आयुक्त के पद पर नियुक्त किया गया है। वह हिमाचल प्रदेश की सबसे उम्रदराज विजेता हैं और उन्होंने वर्ष 2012 में आठवीं बार विधानसभा चुनावों में जीत हासिल की है।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close