वीर बाहदुर सिंह की जीवनी

March 05, 2019
Spread the love

वीर बहादुर सिंह भारतीय राजनेता और राजनीतिज्ञ थे। वे उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रहे थे। वे उत्तर प्रदेश के 14वें मुख्यमंत्री थे। 1967 की उत्तर प्रदेश विधान सभा के पनियारा निर्वाचन क्षेत्र तत्कालीन ज़िला गोरखपुर से वीर बहादुर सिंह सर्वप्रथम निर्वाचित हुए थे। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको वीर बहादुर सिंह के जीवन के बारे में बताएगे।

वीर बहादुर सिंह की जीवनी

जन्म

वीर बहादुर सिंह का जन्म 18 जनवरी सन 1935 को गोरखपुर, उत्तर प्रदेश में हुआ था।

शिक्षा

वीर बहादुर सिंह ने गोरखपुर विश्वविद्यालय से एम.ए. और डी.लिट्‌ की मानद उपाधि प्राप्त की थी। कृषि,राजनीति समाज सेवा वीर बहादुर सिंह जी के मुख्य कार्यक्षेत्र थे।

करियर

1967 की उत्तर प्रदेश विधान सभा के पनियारा निर्वाचन क्षेत्र तत्कालीन ज़िला गोरखपुर से वीर बहादुर सिंह सर्वप्रथम निर्वाचित हुए थे।
वीर बहादुर सिंह जी दोबारा 1969, 1974,1980 और 1985 तक पाँच बार उत्तर प्रदेश विधान सभा के सदस्य निर्वाचित हुए। वे 1988 से 1989 तकराज्य सभा के सदस्य रहे। 1970, 1971,1973 और 1973-74 तक वीर बहादुर सिंह उपमन्त्री के पद पर नियुक्त रहे। 1976 से 1977 तक राज्य मंत्री रहे और फिर इसके बाद 1980 से 1985 तक मंत्री रहे। वीर बहादुर सिंह 24 सितम्बर, 1985 से 24 जून, 1988 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वे उत्तर प्रदेश के 14वें मुख्यमंत्री थे। 1988 से 30 मई, 1989 तक वे केन्द्रीय संचार मंत्री के पद पर आसीन रहे । वीर बहादुर सिंह जिला युवक कांग्रेस गोरखपुर के संयोजक, सदस्य अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी, सदस्य उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी, महामन्त्री उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी और सेन्ट्रल पार्लियामेन्टरी बोर्ड के स्थायी निमंत्रित सदस्य भी रहे।

वीर बहादुर सिंह ने रामगढ़ तालल परियोजना, बौद्ध परिपथ, सर्किट हाउस, सड़कों का चौडीकरण, विकास नगर, राप्‍तीनगर में आवासीय भवनों का निर्माण, पर्यटन विकास केंद्र की स्‍थापना, तारामंडल का निर्माण और अनेक पार्कों का सुंदरीकरण कराने का कार्य करवाया था। उनके कार्यकाल के दौरान उत्तर प्रदेश में कई विकास कार्य करवाए गए थे जिनके लिए उन्‍हें आज भी याद किया जाता है और यूपी के राजनीतिक इतिहास में हमेशा उनका नाम याद किया जाएगा।

विदेश यात्रा

यूथ डेलीगेशन के सदस्य की हैसियत से यू.एस.एस.आर. और कांग्रेस (आई) प्रतिनिधिमंडल के नेता के रूप में वीर बहादुर सिंह ने इंग्लैण्ड, रूमानिया, यू.एस.एस.आर. और फ़्राँस की यात्राएँ की।

मृत्यु

वीर बहादुर सिंह की मृत्यु 30 मई, 1989 को फ़्राँस में हुई थी ।

Leave a comment