वॉय. वी. रेड्डी की जीवनी – Y. V. Reddy Biography Hindi

August 17, 2019
Spread the love

वॉय. वी. रेड्डी भारतीय रिज़र्व बैंक के इक्कीसवें गवर्नर रह चुके हैं। 2010 में  उन्हें भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। उन्हे 2014 के लिए इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन (आईईए) के सम्मेलन अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया गया था। वे 3 जनवरी 2013 से भारत के चौदहवें वित्त आयोग के अध्यक्ष रह चुके है । वर्तमान में रेड्डी हैदराबाद में सेंटर फॉर इकोनॉमिक एंड सोशल स्टडीज (CES) में मानद प्रोफेसर के रूप में कर्यरत हैं। तो आइए आज इस आर्टिकल में हम आपको वॉय. वी. रेड्डी की जीवनी – Y. V. Reddy Biography Hindi के बारे में बताएगे।

वॉय. वी. रेड्डी की जीवनी – Y. V. Reddy Biography Hindi

वॉय. वी. रेड्डी की जीवनी - Y. V. Reddy Biography Hindi

जन्म

वॉय. वी. रेड्डी का जन्म 17 अगस्त 1941 को कडापा, वाईएसआर जिला, आंध्र प्रदेश, भारत हुआ था उनका पूरा नाम यागा वेणुगोपाल रेड्डी है।

शिक्षा

वॉय. वी. रेड्डी ने मद्रास यूनिवर्सिटी, अर्थशास्त्र में एम.ए. किया और उस्मानिया विश्वविद्यालय तथा हैदराबाद विश्वविद्यालय से पीएचडी की डिग्री प्राप्त की। उन्होने नीदरलैंड संस्थान तथा सोशल स्टडीज संस्थान से आर्थिक योजना में डिप्लोमा भी लिया हुआ है।

Read This -> रोज मिलियन बैथ्यु की जीवनी – Rose Million Bethune Biography Hindi

करियर और योगदान

  • वह 1964 में भारतीय प्रशासनिक सेवा में शामिल हुए। उन्होंने आंध्र प्रदेश, भारत सरकार और विश्व बैंक की सरकारों में सेवा दी।
  • 1995 में वित्त मंत्रालय में सचिव (बैंकिंग) के पद पर पहुंचे। वॉय. वी. रेड्डी की जीवनी – Y. V. Reddy Biography Hindi
  • 1996 में वे भारतीय रिज़र्व बैंक में चले गए। उप राज्यपाल, और फिर 2002 में अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष में बोर्ड में कार्यकारी निदेशक के रूप में कार्य किया।
  • उन्होने 6 सितंबर, 2003 से 5 सितंबर, 2008 तक भारतीय रिज़र्व बैंक के इक्कीसवें गवर्नर के रूप में कार्य किया।
  • वाई.वी. रेड्डी 1 फरवरी 2013 से 31 दिसंबर 2014 तक भारत के चौदहवें वित्त आयोग के अध्यक्ष भी रह चुके है।
  • वे 2008 से 2013 के बीच, रेड्डी एकेडमिया में सक्रिय रहे, और हैदराबाद विश्वविद्यालय, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, मद्रास और कोलंबिया विश्वविद्यालय, न्यूयॉर्क से जुड़े रहे।
  • रेड्डी ने विज़िटिंग फेलो, लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स, बिजनेस मैनेजमेंट विभाग, उस्मानिया विश्वविद्यालय में पूर्णकालिक यूजीसी विज़िटिंग के साथ ही प्रशासनिक स्टाफ कॉलेज ऑफ इंडिया और हैदराबाद में इकोनॉमिक एंड सोशल स्टडीज सेंटर में एक प्रोफेसर के रूप में भी कार्य किया।
  • उन्होंने अंतरराष्ट्रीय मुद्रा और वित्तीय प्रणाली के सुधारों पर संयुक्त राष्ट्र के विशेषज्ञों के आयोग के सदस्य के रूप में कार्य किया।
  • वह अंतर्राष्ट्रीय मौद्रिक प्रणाली के सुधार पर द पैलस रॉयल इनिशिएटिव के सदस्य थे।
  • वह नई आर्थिक सोच (INET) के लिए सलाहकार बोर्ड ऑफ इंस्टीट्यूट में भी थे।
  • वे ग्लोबल फाइनेंशियल क्राइसिस में आईएमएफ की भूमिका के स्वतंत्र मूल्यांकन पर उच्च स्तरीय सलाहकार पैनल के सदस्य थे।
  • डॉ रेड्डी 2014 में भारतीय आर्थिक संघ के 97 वें वार्षिक सम्मेलन के सम्मेलन अध्यक्ष थे।
  • इससे पहले वे 2011 के दौरान भारतीय अर्थमितीय सोसायटी के अध्यक्ष थे।
  • उन्हे 2014 के लिए इंडियन इकोनॉमिक एसोसिएशन (आईईए) के सम्मेलन अध्यक्ष के रूप में निर्वाचित किया गया था।
  • 3 जनवरी 2013 से यह भारत के चौदहवें वित्त आयोग अध्यक्ष बन गए।
  • वर्तमान में रेड्डी हैदराबाद में सेंटर फॉर इकोनॉमिक एंड सोशल स्टडीज (CES) में मानद प्रोफेसर के रूप में कर्यरत हैं।

Read This -> सरोजिनी नायडू की जीवनी – Sarojini Naidu Biography Hindi

पुस्तकें

  • Advice and Dissent: My Life in Public Service – 2017
  • India and the Global Financial Crisis: Managing Money and Finance -2009
  • Global Crisis, Recession, and Uneven Recovery – 2011
  • Economic Policies & India’s Reform Agenda: New Thinking – 2013
  • Multilevel planning in India -1979 वॉय. वी. रेड्डी की जीवनी – Y. V. Reddy Biography Hindi
  • Economic Policy in India: Managing Change -2003
  • Monetary and Financial Sector Reforms in India: A Central Banker’s Perspective -2000
  • Financial and Fiscal Policies: Crises and New Realities – 2014
  • Galgotia’s Privatisation: Approaches, Processes, and Issues – 1992
  • Lectures on Economic and Financial Sector Reforms in India -2002
  • World Bank, borrowers’ perspectives – 1985
  • Public enterprise reform and privatisation

पुरस्कार और सम्मान

  • श्री वेंकटेश्वर विश्वविद्यालय, भारत द्वारा रेड्डी को डॉक्टर ऑफ लेटर्स (ऑनोरिस कौसा) की डिग्री से सम्मानित किया गया था;
  • मॉरीशस विश्वविद्यालय द्वारा डॉक्टर ऑफ सिविल लॉ (ऑनोरिस कौसा)।
  • 17 जुलाई 2008 को, उन्हें लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स के मानद फेलो बनाया गया।
  • 2010 में, उन्हें भारत का दूसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।

Leave a comment