Aaj Ka Itihas

15 दिसंबर का इतिहास – 15 December History Hindi

15 दिसंबर का इतिहास – 15 December History Hindi। आज इस आर्टिकल में हम आपको 15 दिसंबर का इतिहास – 15 December History Hindi के बारे में बताने जा रहे है. हमारा इतिहास इतना बड़ा है कि इसे याद रख पाना किसी आम इंसान के बस की बात नहीं है. इसीलिए हमारी वेबसाइट पर हम आपको हर रोज यानी तारीख के हिसाब से आज की दिन घटित हुई घटनाओं का विवरण दे रहे है जिसकी मदद से आप अपने ज्ञान को बढ़ा सकते है।

15 दिसंबर का इतिहास – 15 December in History Hindi

  • फ्रांस में क्रांतिकारी ट्रिब्यूनल को आज ही के दिन 1794 में समाप्त कर दिया गया।
  • छत्रपति शिवाजी महाराज के पोते शाहूू महाराज का 15 दिसंबर 1749 में निधन हुआ।
  • ईस्ट इंडिया कंपनी ने आज ही के दिन 1803 में उड़ीसा (अब ओडिशा) पर कब्जा किया।
  • एफिल टावर बनाने वाले फ्रांसीसी इंजीनियर और आर्किटेक्‍ट गुस्‍ताव एफिल का जन्‍म 15 दिसंबर 1852 में हुआ था।
  • बनारस हिन्दू युनिवर्सिटी सोसाइटी की स्थापना आज ही के दिन 1911 में हुई।
  • प्रथम विश्व युद्ध के दौरान 15 दिसंबर 1916 में वेरदून में हुए लड़ाई में फ्रांस ने जर्मनी को हराया।
  • मॉल्डोवा गणराज्य ने आज ही के दिन 1917 में रूस से स्वतंत्र होने की घोषणा की।
  • भारतीय प्रसिद्ध हास्य कलाकार एवम निर्देशक् बापु का जन्‍म 15 दिसंबर 1933 में हुआ था।
  • भारत के स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी एवं स्वतन्त्र भारत के प्रथम गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल का निधन 15 दिसंबर 1950 में हुआ।
  • गाँधी जी के अनुयायी स्वतन्त्रता सेनानी पोट्टि श्रीरामुलु का निधन 15 दिसंबर 1952 में हुआ।
  • भारत की एस विजयलक्ष्मी पंडित आज ही के दिन 1953 में संयुक्त राष्ट्र महासभा के आठवें सत्र की प्रथम महिला अध्यक्ष चुनी गई।
  • नाजी तानाशाह एडोल्फ़  हिटलर के यहूदी नरसंहार में व्यवस्थित कत्लेआम के आयोजक आडोल्फ आइषमन को 15 दिसंबर 1961 को मौत की सजी सुनाई गई।
  • बांग्लादेश में गंगा नदी के तट पर आज ही के दिन 1961 में आये चक्रवात में 15,000 लोगों की मौत हुई।
  • दुनिया की सबसे बड़ी एनीमेशन कंपनी के संस्थापक वॉल्ट डिज़नी का निधन 15 दिसंबर 1966 में हुआ।
  • देश के महान फुटबॉलर बाईचुंग भूटिया का जन्‍म 15 दिसंबर 1976 में हुआ था।
  • न्यूजीलैंड से स्वतंत्र हुआ समोआ आज ही के दिन 1976 में संयुक्त राष्ट्र का सदस्य बना।
  • मॉरिशस के गवर्नर शिवसागर रामगुलाम का निधन 15 दिसंबर 1985 में हुआ।
  • भारतीय महिला पहलवान गीता फोगाट का जन्‍म 15 दिसंबर 1988 में हुआ था।
  • जाने माने फिल्म निर्माता सत्यजीत रे को आज ही के दिन 1991 में सिनेमा जगत् में उनकी उपलब्धियों के लिए स्पेशल ऑस्कर से नवाजा गया।
  • भारतीय कंप्यूटर इंजिनियर पियूष कमल का जन्‍म 15 दिसंबर 1992 में हुआ था।
  • जेनेवा में गैट (व्यापार एवं तटकर पर आम अहमति) आज ही के दिन 1993 में विश्व व्यापार समझौते पर 126 देशों द्वारा हस्ताक्षर।
  • संयुक्त राष्ट्र 15 दिसंबर 1997 में महासभा द्वारा किसी सार्वजनिक स्थान, वाहन या दफ़्तर पर उग्रवादियों द्वारा किये जाने वाले विस्फोटों को ग़ैर क़ानूनी घोषित किये जाने का प्रस्ताव पारित।
  • अरुंधति रॉय को आज ही के दिन 1997 में उनके उपन्यास ‘द गॉड ऑफ स्मॉल थिंग्स’ के लिए ब्रिटेन के सबसे प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कार ‘बुकर पुरस्कार’ से नवाजा गया।
  • कुशल पत्रकार तथा लेखक गौर किशोर घोष का निधन 15 दिसंबर 2000 में हुआ।
  • चेरनोबिल रिएक्टर आज ही के दिन 2000 में सदा के लिए बंद किया गया।
  • इटली में पीसा की झुकी मीनार को 11 साल बंद रहने के बाद 15 दिसंबर 2001 में दोबारा खोला गया।
  • भूटान सरकार ने आज ही के दिन 2003 में अपने यहाँ सक्रिय भारतीय अलगाववादियों के विरुद्ध कार्रवाई शुरू की।
  • ईराक में नयी सरकार के गठन के लिए 15 दिसंबर 2005 में मतदान सम्पन्न हुए।
  • पाकिस्तान में आज ही के दिन 2007 में आपातकालीन नागरिक क़ानून लागू।
  • केन्द्रीय मंत्रिमण्डल ने 15 दिसंबर 2008 में आतंकवादी वारदात से निपटने के लिए राष्ट्रीय जाँच एजेंसी के गठन के प्रस्ताव को मंज़ूरी दी।
  • ऑस्ट्रेलिया के क्रिसमस द्वीप के पास 15 दिसंबर 2010 में 90 शरणार्थियों को ले जा रहे एक नाव के
    दुर्घटनाग्रस्त होने से 48 लोगों की मौत हुई।
  • सिडनी के एक कैफे में आज ही के दिन 2014 में एक व्यक्ति हारुण मोनिस ने लोगों को 16 घंटे तक बंधक बनाया। पुलिस कार्रवाई में मोनिस के अलावा दो अन्य भी मारे गये।

आखिरी शब्द

यहाँ पर हमने आपको 15 दिसंबर को घटित घटनाओं, 15 दिसंबर का इतिहास – 15 December History Hindi, Today History in Hindi 15 December, 15 December History Today Hindi, Today Event History in Hindi 15 December events के बारे में बताया. अगर आपके पास कोई आज के दिन घटित को घटना या इतिहास की जानकारी है तो हमारे साथ जरुर शेयर करें. इसके लिए आप कमेंट बॉक्स में कमेंट भी कर सकते है।

Sonu Siwach

नमस्कार दोस्तों, मैं Sonu Siwach, Jivani Hindi की Biography और History Writer हूँ. Education की बात करूँ तो मैं एक Graduate हूँ. मुझे History content में बहुत दिलचस्पी है और सभी पुराने content जो Biography और History से जुड़े हो मैं आपके साथ शेयर करती रहूंगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close