Biography Hindi

सर सैयद अहमद खां की जीवनी – Syed Ahmad Khan Biography Hindi

सर सैयद अहमद खाँ भारत में शिक्षा को नया रूप और उर्दू नस्ल को नई सूरत प्रदान कराने वाले सर सैयद अहमद खाँ एक हिदुस्तानी शिक्षक और नेता भी थे. वे वैज्ञानिक, कथात्मक, तर्क पूर्ण विचारों को बढ़ावा देते थे. मौलाना अल्ताफ हुसैन हाली इनके घनिष्ट मित्र थे. आज हम इस आर्टिकल में आपको सर सैयद अहमद खां की जीवनी – Syed Ahmad Khan Biography Hindi के बारे में बताने जा रहे है.

सर सैयद अहमद खां की जीवनी – Syed Ahmad Khan Biography Hindi

सर सैयद अहमद खां की जीवनी

जन्म

सर सैयद अहमद खाँ का जन्म 17 अक्तूबर 1817 में दिल्ली में सैयद घराने में हुआ। इनके पिता का नाम मीर मोहम्मद मुत्तकी और इनकी माता का नाम अजिस-उन-निसा था. उनके पिता सैयद मुतक्की मुहम्मद शाह अकबर सानी के सलाहकार थे. 22 वर्ष में उनके पिता की मृत्यु के बाद परिवार को आर्थिक कठिनाइयो का सामना करना पड़ा.

शिक्षा

सर सैयद अहमद खाँ को बचपन से ही पढ़ने लिखने के शैकीन थे. इनकी प्राथमिक शिक्षा इस्लामिक स्कूल से हुई और इन्होंने उच्च शिक्षा यूनिवरसिटी ऑफ edinburgh, ईस्ट इडिया कंपनी कॉलेज से शिक्षा प्रदान की.

योगदान

अपने पिता की मृत्यू के बाद खाँ ईस्ट इंडिया कंपनी में एक क्लर्क के रूप में शामिल हूए और धीरे-धीरे उनकी पदोन्नत करके निचली अदालत का न्यायाधीश बना दिया गया. खाँ ने अलीगढ़ आदोलन को आगे बढ़ाया, जो मूल रूप से एक शैक्षिक उपक्रम था. उन्होंने कई स्कूलो की स्थापना की और उनमें से मोहम्मडन एंग्लो ओरिएंटल कॉलेज, जो बाद में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के नाम से विकसित हुआ.

पुरस्कार

उन्हें order of the star of india के पुरस्कार से नवाजा गया.

निधन

सर सैयद अहमद खाँ का निधन 80 वर्ष की आयु में दिल का दौरा पड़ने के कारण 27 मार्च 1898 में अलीगढ़, उतर प्रदेश में हुआ.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close